Posts

Showing posts from September, 2012

अभी पालने में है

ओह री  चुनारिया ...
ना हो बाँवरिया,
अभी तो सांवरिया अपना ...
पालने  में है।

करूँ ममता की छैया...
कि मेरे जीवन की नैया ,
और सबका खेवैया 
अभी पालने में है।

दादा जी मुस्कावें...
दादी को रिझावें,
झूम झूम दिखावें वो जो...
पालने में है। 

करें नाना जी तैयारी...
बिटिया की साड़ी और बिटुवा की गाड़ी,
पड़े नानी पे भारी वो जो... 
पालने में है। 

मामा जी हर्शावें...
मामी से बतियावें,  
कहें लाखों में एक है जो...
पालने में है। 

बुआ जी हमारी...
जायें वारी वारी,
कहें बड़ा मनोहारी है जो...
पालने में है। 

घरोंदे की गैया, 
राधा की मैया...
तनिक ठहरो तो भैया,
अभी तो कन्हैया मेरा... 
पालने में है। 


ओह री चुनारिया...
ना हो बाँवरिया,
अभी तो सांवरिया अपना...
पालने में है.